लाइफ स्टाइलसेहत

डायबिटीज में क्या चावल खाना चाहिए, और क्या नहीं?

डायबिटीज में क्या चावल खाना चाहिए

आज के समय में, शुगर की समस्या को एक आम किन्तु गंभीर रोग की तरह देखा जा सकता है. यह वो समस्या है जो अपना प्रकोप दिन प्रतिदिन लगातार बढाती ही जाती है. ऐसे में शुगर से ग्रसित लोगो के लिए उचित आहार लेना बहुत जरुरी हो जाता है. इसी के चलते डायबिटीज में क्या खाना चाहिए, और क्या नहीं ये देखना बहुत ही आवश्यक होता है.

आज हम आपको शुगर से जुड़ी कुछ आम जानकारी के साथ साथ रोग के दौरान लिए जाने वाले कुछ आवश्यक आहारो के बारे में बताएंगे.

डायबिटीज?

डायबिटीज के रोगियों में रक्त शर्करा का स्तर उच्च रहता है जिसके चलते उनको बार-बार पेशाब जाने, भूख में अनावश्यक वृद्धि होने व जरूरत से ज्यादा प्यास लगने जैसी समस्याओ का सामना करना पड़ता है. इस रोग के कारण पीड़ित में पर्याप्त इन्सुलिन का उत्पादन नही हो पाता और अधिक समय तक ऐसा रहने पर व्यक्ति में भिन्न-भिन्न प्रकार के विकार उत्पन्न होने लगते है.

डायबिटीज में आहार

शुगर या डायबिटीज में क्या खाना चाहिए और क्या नही, ये हमेसा से एक बड़ा सवाल रहा है. चूँकि डायबिटीज में आहार एक महत्वपूर्ण भूमिका रखता है, इसलिए ज्यादातर चिकित्सक मधुमेह के इलाज के दौरान निम्न भोजन लेने की सलाह देते है.

  • सुबह एक ग्लास पानी में आधा चम्मच मेथी पाउडर डालकर पिएँ. इसके आलावा आप रात्रि में एक ग्लास पानी में जौ भिगोकर भी रख सकते है तथा सुबह उसी पानी को साफ करके पी सकते है.
  • पानी पीने के एक घंटे बाद शुगर फ्री चाय व हल्का मीठा बिस्कुट भी लिया जा सकता है.
  • ब्रेकफास्ट में दलिया/अंकुरित अनाज और बिना मलाई वाला दूध लेना उचित माना जाता है.
  • दोपहर का भोजन करने से पहले कुछ फल जैसे कि सेब, अमरुद, संतरा या पपीता भी खाना चाहिए. भोजन में एक कटोरी चावल, एक छोटी कटोरी दाल और दो रोटी के साथ-साथ थोडा दही व सलाद भी लेना चाहिये.
  • शाम को नाश्ते में ग्रीन टी, बेक्ड स्नैक्स या फिर हल्के मीठे बिस्कुट भी ले सकते है. तथा रात्रि भोज में एक कटोरी सब्जी व दो रोटी खाये.
  • सोते समय एक ग्लास गर्म दूध में एक चौथाई चम्मच हल्दी डालकर पीना भी कारगर माना जाता है.

शुगर में कौन सा फल खाना चाहिए?

  • डायबिटीज के रोगियों को प्रतिदिन कम से कम एक केले का सेवन करना चाहिए. केले को दो हिस्सों में तोड़ कर अलग-अलग खाना कारगर मन जाता है. यह सरीर में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा को बढाता है.
  • रोगियों को प्रतिदिन कम से कम एक या फिर आधा सेब जरुर खाना चाहिए. सेब में उपस्थित एंटीऑक्सीडेंट, कोलेस्ट्राल के स्तर को बढ़ाते है और रोगियों की पाचन शक्ति को बेहतर व मजबूत बनाते है.
  • नाशपाती का फल भी मधुमेह रोगियों के लिए रामबाण साबित हो सकता है. क्योकि ये फल विटामिन और डायटरी फाइबर का अच्छा सोर्स होते है, इसलिए ये मधुमेह रोगियों में रोग से लड़ने के लिए मदद कर सकते है.
  • इसके साथ-साथ अमरुद का फल भी शुगर रोगियों के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है.
  • जामुन और आडू भी मधुमेह से ग्रसित रोगियों के लिए अच्छे माने जाते है. 

शुगर में चावल खाना चाहिए या नहीं

वैसे तो डायबिटीज के रोगी एक निश्चित मात्रा में किसी भी चावल का सेवन कर सकते है. लेकिन शुगर के मरीजो में व्हाइट चावल की तुलना में ब्राउन चावल का सेवन अधिक बेहतर माना जाता है. क्योकि, हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार, शुगर के रोगियों को सिर्फ उन्ही भोजनों का सेवन करना चाहिए जिनका ग्लाइसिमिक इंडेक्स 55 से कम हो. और जब बात चावल की आती है तो ब्राउन राइस का ग्लाइसिमिक इंडेक्स व्हाइट राइस की अपेक्षा कम होता है, इसलिए रोगी इस चावल का प्रयोग दिन में एक बार कर सकते है. ध्यान रहे कि चावल की अधिक मात्रा रोगियों की हालत पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकती है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button